Virgo

कन्या राशिफल 2017 : आप सभी अपने कुंडली के बारे में विशेष जानकारी या अपने कुंडली के हिसाब से अपना राशिफल या अपने किसी भी समस्या का समाधान जानना चाहते हैं तो आप हमें कॉल या Whats App भी कर सकते हैं इस नंबर पर 09990080052

कन्या राशी में ग्रहों का गोचर : वर्षारंभ से 11 सितम्बर तक इस राशी पर गुरु का संचार रहने से अत्यंत संगर्ष पूर्ण एवं कठिन परिस्थिति के बावजूद निर्वाह योग्य आय के साधन बनते रहेंगे | परन्तु 26 जनवरी से 20 जून तक, पुनः 26 अक्टूबर से वर्षांत तक शनि की ढैय्या का प्रभाव रहेगा | वर्षारंभ से 1 मार्च तक मंगल की विशेष दृष्टि पड़ने से क्रोध एवं उत्तेजना अधिक रहेगी | सितम्बर तक श्रीविष्णुसहस्रनामस्तोत्रम् का पाठ करना तथा हर गुरुवार का व्रत रखकर धर्म-स्थान पर हलुआ या पीले मीठे चावलों का लंगर करवाएं तथा केले का दान करना शुभ रहेगा |

कन्या राशिफल जनवरी : घर में मांगलिक एवं धर्मिक कार्य करने की योजना बनेगी | धर्म-कर्म की और रूचि बढ़ेगी | पदोन्नति एवं धन प्राप्ति के अवसर प्राप्त होंगें | मंगल की दृष्टी के कारण मानसिक तनाव, नेत्र कष्ट एवं सिर-दर्द भी रह सकता है | मंगल स्त्रोत्र का पाठ करना शुभ रहेगा |

कन्या राशिफल फ़रवरी : मंगल-शनि ग्रहों की दृष्टी रहने, परन्तु गुरु के संचार से संघर्ष-पूर्ण स्थिति होने के बावजूद निर्वाह योग्य साधन बनते रहेंगे | मन परेशान रहे, व्यवसाय/नोकरी में परिवर्तन का विचार बनेगा | परन्तु विवाह योग्य लड़के/लड़कियां के विवाह के संयोग बनेगा | महा-मृत्युंजय मन्त्र का पाठ करना शुभ रहेगा |

कन्या राशिफल मार्च : बिगड़े हुए कार्यों में कुछ सुधार होगा | मान-समान्न में बढ़ोतरी और परिवार में अक्समात ख़ुशी का माहोल बनेगा | जमीन-जायदाद तथा वाहनादि का क्रय-विक्रय होगा | उत्तराद्ध में पेचीदा परिस्थितियों के कारण मानसिक तनाव एवं चिंता रहेगी | भागवान शिव का पूजन अत्यंत लाभदायक रहेगा तथा कुमार कर्तिक जी का भी पूजन शुभ होगा |

कन्या राशिफल अप्रैल : स्वास्थ्य सम्बन्धी कष्ट, अपने भी पराये जैसे व्यवहार करेंगें | ता. 9 से व्यवसायिक क्षेत्रों में संघर्ष-पूर्ण परिस्थितियों एवं चुनोतियों का सामना रहेगा | शनि की ढैय्या के प्रभाव से खर्च एवं घरेलू उलझनें बढ़ेगी | परन्तु नयी-नयी योजना बनाने में समय व्यतीत होगी | श्री सूक्त का पाठ तथा गणेश जी का पूजन करना शुभ रहेगा |

कन्या राशिफल मई : बुध अष्टमस्थ होने से शरीर कष्ट, वृथा भाग-दोड़, तथा खर्च की अधिकता रहेगी | आराम के साधनों पर व्यय अधिक होगा | बनते हुए कार्यों में अडचनें, सोची हुई योजना में आंशिक सफलता मिलेगी | परिवार में कुछ मतभेद उत्पन्न होंगें | श्री विष्णुसहस्रनाम का पाठ करना तथा गाय को चारा खिलाना शुभ रहेगा |

कन्या राशिफल जून : ता. 13 से कुछ बिगड़े हुए कार्य में सुधार होगा | धनागमन के साधनों में वृद्धि विदेशी कार्यों में प्रगति होगी | ता 18 से विघ्न के बावजूद कार्य-व्यवसाय में उन्नति के अवसर प्राप्त विशेष रूप से होंगें | मंगल स्त्रोत्र का पाठ तथा हनुमान जी का पूजन करना शुभ रहेगा |

कन्या राशिफल जुलाई : ता 2. से बुध लाभ स्थान में होने से व्यवसाय की दृष्टी से शुभ रहेगा | यद्दपि आय के साधनों में वृद्धि होगी | खर्च भी अधिक होंगें | ता 16 के बाद विगत किये गये प्रयासों का प्रतिफल मिलेगा | प्रिय बंधू से मुलाकात और पारिवारिक सहयोग से उन्नति के अवसर मिलेंगें | भगवान शिव जी का आराधना अत्यंत हितकारी होगा |

कन्या राशिफल अगस्त : स्वास्थ्य विकार तथा कारोबारी उलझनें बढेंगी | घरेलू परेशानी में वृद्धि, खर्च अधिक तथा किसी निकटस्थ सहयोगी से धोके की संभावना बनी रहेगी | मन अशांत तथा असंतुष्ट रहेगा |सूर्य भगवान को जल अर्पित करना तथा श्री आदित्य-ह्रदय स्त्रोत्र का पाठ करना शुभ रहेगा |
कन्या राशिफल सितम्बर : ता.5 से बुध मार्गी होने से हालात में सुधार होगा | परन्तु दाम्पत्य जीवन में कुछ तनाव रहे | व्यवसायिक क्षेत्रों में लाभ के अवसर प्राप्त होंगें | विदेश सम्बन्धी कार्यों में प्रगति होगा | पैतृक-सम्पति विवाद एवं पति-पत्नी के स्वास्थ्य सम्बन्धी चिंता भी रहेगी | माता दुर्गा जी का सप्तसती का पाठ करें |

कन्या राशिफल अक्टूबर : धन-लाभ एवं सुख-साधनों में वृद्धि होगी | धर्म-कर्म में रुझान बड़ेगा, किसी श्रेष्ट व्यक्ति के सहयोग से जटिल कार्य हल होगा | उत्तराद्ध में मंगल-शुक्र का योग राशी पर होने से सोची हुई योजना में आंशिक सफलता मिलेगी | परन्तु क्रोध अधिक रहेगा, अपने आप पर नियंत्रण करें |कार्तिक महात्म्य का पाठ करना शुभ रहेगा |

कन्या राशिफल नवम्बर : व्यर्थ की भाग-दोड़ एवं परिवर्तनों के उपरांत ही व्यवसायिक क्षेत्रों में सफलता मिलेगी |व्यर्थ का तनाव, मानसिक चिंता एवं क्रोध की अधिकता होगी | ता.24 के बाद घरेलू एवं पारिवारिक सुखों में वृद्धि होगी, वाहनादि का सुख भी प्राप्त होगा |श्री विष्णुसहस्रनाम का पाठ करना अत्यंत लाभदायक रहेगा |
कन्या राशिफल दिसम्बर : ता. 3 से बुध वक्री रहने से लाभ कम एवं परिश्रम अधिक रहेगा | किसी विशेष व्यक्ति के सहयोग से भूमि सम्बन्धी कार्यों में कुछ प्रगति होगी | साझेदारी के कार्यों में प्रतिस्ठा बढ़ेगी , परन्तु विशेष लाभ नहीं होगा | ता. 23 से बुध मार्गी होने से व्यवसाय में हालात बेहतर होंगें | यात्रा होने के भी योग बनते हैं | शिव चलिषा का पाठ करना सही रहेगा |